Share
पर्वतीय क्षेत्रों के साथ ही राजधानी के कर्इ इलाकों में हुर्इ बारिश

पर्वतीय क्षेत्रों के साथ ही राजधानी के कर्इ इलाकों में हुर्इ बारिश

देहरादून: उत्तराखंड में मौसम का मिजाज सर्द हो गया है। पर्वतीय क्षेत्रों के साथ ही राजधानी के कर्इ इलाकों में झमाझम बारिश हुर्इ। बारिश होने से मौसम भी सुहावना बना हुआ है, जिससे लोगों को कुछ हद तक गर्मी से निजात मिली है।

उत्तराखंड की राजधानी समेत गढ़वाल मंडल के पहाड़ी जिलों चमोली, पौड़ी उत्तरकाशी समेत कर्इ क्षेत्रों में कहीं भारी बारिश तो कहीं हल्की बारिश हुर्इ है। वहीं ज्यादा ऊंचार्इ वाले स्थानों पर बर्फबारी भी देखने को मिली है। बारिश से एक ओर जहां सर्द मौसम ने लोगों को गर्मी से निजात दिलार्इ है, तो वहीं ओलावृष्टि से किसानों के चहरे लटक गए हैं।

कुमाऊं मंडल के पर्वतीय क्षेत्रों में भई कई स्थानों पर बारिश के साथ भारी ओलावृष्टि हुई है। इससे फसल व फल की खेती को खासा नुकसान पहुंचा है। कैलास मानसरोवर यात्रा मार्ग समेत पंचाचूली, राजरंभा, खलियाटॉप की ऊंची चोटियों पर हिमपात हो रहा है।

सीमांत पिथौरागढ़ व चम्पावत में पिछले तीन दिन से मौसम का मिजाज बदला हुआ है। बुधवार को उच्च हिमालयी क्षेत्र में बर्फबारी हुई। पिथौरागढ़, बेरीगनाग में तेज बारिश हुई है। वहीं बेरीनाग व चंपावत में भारी ओलावृष्टि से गेहूं, जौ, मसूर की फसलों सहित फलों और सब्जियों को भारी नुकसान हुआ है।

तहसील क्षेत्र के जाख रावत, कालेटी, उडियारी, बेसुली, जगथली, गराऊं, सागराऊ में अस्सी फीसद फसल नष्ट हो गई है। पीडि़त ग्रामीणों ने सरकार से मुआवजा दिए जाने की मांग की है। चोटियों पर हिमपात से मुनस्यारी में तापमान में गिरावट आई है। दिन का न्यूनतम तापमान आठ डिग्री सेल्सियस रहा। वहीं धारचूला के उच्च हिमालयी व्यास और दारमा की चोटियों पर हिमपात हो रहा है।

Leave a Comment