Share
राजीव गाधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम से तय होगा अफगानिस्तान और बाग्लादेश क्रिकेट टीमों का भविष्य

राजीव गाधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम से तय होगा अफगानिस्तान और बाग्लादेश क्रिकेट टीमों का भविष्य

देहरादून: अफगानिस्तान और बाग्लादेश क्रिकेट टीम का भविष्य देहरादून के राजीव गाधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम से तय होगा। यहा तीन जून से होने वाली टी-20 सीरीज जीतना दोनों टीमो के लिए बेहद जरूरी है। इस सीरीज की तैयारी जोरशोर से शुरू हो गई। वहीं अफगानिस्तान की टीम भी देहरादून पहुंच गई है।

इस सीरीज में जो भी टीम जीतेगी उस टीम के आइसीसी रैंकिंग में अंक बढ़ेंगे। आइसीसी रैंकिंग के अंकों के आधार पर ही टी-20 क्रिकेट व‌र्ल्ड कप के लिए टीमें तय होंगी। आइसीसी रैंकिंग की टॉप-8 टीमों को ही व‌र्ल्ड कप में मौका मिलेगा।

शुक्रवार देर शाम अफगानिस्तान की 52 सदस्यीय टीम नंदा की चौकी स्थित रिजेंटा एलपी विला पहुंची। जंहा उनका उत्तराखंड के पारंपरिक अंदाज में स्वागत किया गया। इस दौरान शानदार लोक नृत्य की प्रस्तुतिया हुई। होटल के स्टाफ ने गर्मजोशी के साथ टीम का स्वागत किया।

टीम मैनेजर ने कहा अफगानिस्तान करेगा मेजबानी
अफगानिस्तान टीम के मैनेजर शिर अघा हमकर ने कहा कि देहरादून का राजीव गाधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम हमारा दूसरा होम ग्राउंड बनने जा रहा है। इससे पहले हम नोएडा के स्टेडियम में खेल चुके हैं। अब हम लोग उत्तराखंड के हैं और हमें बाग्लादेशी टीम की मेजबानी करनी है। यह सीरीज जीतना हमारे लिए बेहद जरूरी है, क्योंकि इसी सीरीज से हम टी-20 व‌र्ल्ड कप के लिए क्वालीफाई कर सकेंगे।

उन्होंने कहा कि व‌र्ल्ड कप में क्वालीफाई करने के लिए हमें टॉप-8 में जगह बनाना बेहद जरूरी है। इस मौके पर रीजेंटा एलपी विलाज के महाप्रबंधक दिलीप छाबड़ा, एमडी अभिषेक गोयल, अभिषेक सिंह, यासिर अराफात समेत कई अन्य मौजूद रहे।

दून की खूबसूरती के हुए कायल अफगानिस्तान
टीम के मैनेजर शिर अघा हमकर ने कहा कि वे सभी पहली बार उत्तराखंड आए हैं। यहां की प्राकृतिक सुंदरता उन्हें बेहद पसंद आ रही है। यह दौरा उनके लिए खास अनुभव है।

कड़ी सुरक्षा के बीच पहुंची टीम जौलीग्राट हवाई अड्डे पर उतरने के बाद टीम को होटल तक कड़े सुरक्षा पहरे के बीच लाया गया। रास्ते मे भी जगह-जगह पुलिस मुस्तैद रही। रास्ते मे कहीं भी टीम को जाम का सामना नही करना पड़ा। होटल में भी पुलिस ने सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए हुए हैं।

दूधिया रोशनी में नहाया दून का स्टेडियम
करीब दो महीने पहले राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम का कटा हुआ बिजली कनेक्शन शुक्रवार को फिर जोड़ दिया गया। कनेक्शन मिलने के बाद स्टेडियम के अधिकारियों ने रात में फ्लड लाइट, एलईडी, साउंड सिस्टम की जांच की। चारों फ्लड लाइट जलने के बाद स्टेडियम दूधिया रोशनी में नहाया।

बिल भुगतान न करने पर ऊर्जा निगम ने क्रिकेट स्टेडियम की बिजली का कनेक्शन बीते मार्च में काट दिया था। सरकार पर बिजली का करीब 62 लाख रुपये का बिल बकाया है। खेल विभाग ने बिल भुगतान के लिए लिखित में 10 दिन का समय मांगा है, जिसके बाद शुक्रवार सुबह ही कनेक्शन फिर जोड़ दिया गया।

गौरतलब है कि स्टेडियम में तीन जून से अफगानिस्तान व बांग्लादेश के बीच तीन टी-20 मैचों की सीरीज खेली जानी है। आज से अफगानिस्तान क्रिकेट टीम ग्राउंड में स्थानीय खिलाड़ियों के साथ प्रैक्टिस करने उतरेगी। परिसर के आसपास के इलाकों में दिनभर सफाई का काम चलता रहा, जबकि देर शाम को लाइटें चेक की गई। स्टेडियम संचालक कंपनी के वाइस प्रेसिडेंट के शशिधर ने बताया कि मैच के लिए स्टेडियम पूरी तरह से तैयार है। जून में दून पहुंच सकती है आयरलैंड क्रिकेट टीम

अफगानिस्तान-बांग्लादेश के टी-20 मैचों की सीरीज के बाद आयरलैंड क्रिकेट टीम का दून दौरान संभावित है। बीसीसीआइ ने राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम को अफगानिस्तान का होम ग्राउंड बनाने की अनुमति दे दी है। अगले पांच साल के लिए दून स्टेडियम ही अफगानिस्तान का होम ग्राउंड होगा।

बांग्लादेश के बाद अफगानिस्तान और आयरलैंड के बीच टी-20 मैच खेले जाने हैं। सूत्रों के अनुसार जून में ही आयरलैंड की टीम भी दून आ सकती है। हालांकि, मैच का शेड्यूल अभी तक जारी नहीं हुआ है।

सीएयू के खिलाड़ियों के साथ प्रैक्टिस
अफगानिस्तान क्रिकेट टीम का स्टेडियम में प्रैक्टिस सेशन शुरू होगा। खेलमंत्री अरविंद पाडेय ने खेल विभाग के अधिकारियों को प्रैक्टिस टीम बनाने के निर्देश दिए थे। खेल विभाग ने क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (सीएयू) को जिम्मेदारी दी है।

सीएयू के प्रभारी सचिव महिम वर्मा ने बताया कि टीम तैयार करने के लिए ट्रायल कराए जा रहे हैं। सीएयू की जो टीम ऑल इंडिया उत्तराखंड गोल्ड कप क्रिकेट टूर्नामेंट में प्रतिभाग करेगी, उसी टीम को अफगानिस्तान के साथ प्रैक्टिस मैच खिलवाया जाएगा।

महिम के अनुसार 20 सदस्यीय टीम का जल्द आज कर लिया जाएगा। इसके अलावा 12 गेंदबाज अफगानिस्तान टीम को उपलब्ध कराए जाएंगे। 22 व 24 मई को अफगानिस्तान और एक मई को बांग्लादेश क्रिकेट टीम के साथ सीएयू की टीम डे-नाइट प्रैक्टिस मैच खेलेगी।

टी-ट्वेंटी के लिए दून पुलिस मांगेगी अतिरिक्त फोर्स
तीन जून से रायपुर स्थित राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में अफगानिस्तान और बांग्लादेश के बीच टी-ट्वेंटी सीरीज खेली जानी है। दून में यह पहला अंतरराष्ट्रीय मैच होने के चलते भारी भीड़ उमड़ने की संभावना है। इधर, चारधाम में पुलिस कर्मियों की ड्यूटी लगने और दून से कई दारोगाओं और कांस्टेबिलों के स्थानांतरण होने के कारण जिले में फोर्स की कमी बनी हुई है।

लिहाजा मैच के दौरान दून पुलिस ने मुख्यालय से अतिरिक्त फोर्स की डिमांड की है। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि इसके लिए जल्द ही मुख्यालय को पत्र लिखा जाएगा। दून के रायपुर स्थित राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम में पहला मैच तीन जून को अफगानिस्तान और बांग्लादेश के बीच खेला जाएगा।
इसके बाद पांच जून और फिर सात जून को मैच खेला जाएगा। पुलिस का आकलन है कि मैच देखने के लिए 15 से 20 हजार दर्शक स्टेडियम पहुंच सकते हैं। लिहाजा इतनी भीड़ को नियंत्रित करने के लिए काफी पुलिस फोर्स की आवश्यकता होगी।

जिले से पुलिस कर्मियों की ड्यूटी चारधाम यात्रा में लगी है। इसके साथ ही हाल ही में दून से कई दारोगाओं और कांस्टेबिलों के ट्रांसफर अन्य जनपदों में हुए हैं। लिहाजा मैचों को शांतिपूर्वक संपन्न करना पुलिस के लिए चुनौती बना हुआ है। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि भीड़ को देखते हुए मुख्यालय से मैचों के दौरान अतिरिक्त फोर्स की डिमांड की जाएगी। जिसके लिए शीघ्र ही मुख्यालय से संपर्क किया जाएगा।

पार्किंग की भी रहेगी समस्या
अगर मैच के दौरान भारी भीड़ उमड़ती है तो रायपुर में पार्किंग की समस्या भी खड़ी हो सकती है। लिहाजा पुलिस ने अभी से पार्किंग स्थलों को चिह्नित करना शुरू कर दिया है। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने कहा कि रायपुर के ओएफडी के ग्राउंड में पार्किंग स्थल बनाए जाने के साथ ही आसपास भी पार्किंग स्थलों की तलाश की जा रही है। जिससे कि समस्या खड़ी न हो।

पार्किंग स्थल से चौक तक ई-रिक्शा की व्यवस्था
ओएफडी से स्टेडियम की दूरी और यातायात समस्या को देखते हुए पुलिस ने पार्किंग स्थल से रायपुर चौक तक ई-रिक्शा संचालन की योजना बनाई है।

Leave a Comment