Share
बिना किसी पुख्ता इंतजाम के रास्ता किया बंद, एक ही लेन पर दौड़ते रहे वाहन

बिना किसी पुख्ता इंतजाम के रास्ता किया बंद, एक ही लेन पर दौड़ते रहे वाहन

देहरादून: सहारनपुर रोड पर आधी रात को ‘हादसों को न्योता देने का खेल’ चलता रहा। बिना किसी पुख्ता इंतजाम के लालपुल पर बैरियर लगाकर सहारनपुर चौक की तरफ जाने वाली लेन को बंद कर दिया गया। इसकी जानकारी सहारनपुर चौक पर तैनात पुलिस कर्मियों को भी नहीं थी। ऐसे में सहारनपुर चौक की तरफ से आने वाले वाहन बेफिक्र अपनी लेन पर चल रहे थे, जबकि लालपुर से आने वाले वाहनों को गलत लेन पर जाने को विवश होना पड़ रहा था। इस तरह वाहन अचानक एक-दूसरे के सामने आ रहे थे। शुक्र मनाइए कि इस गंभीर अनदेखी के बीच कोई बड़ा हादसा नहीं हुआ।

सहारनपुर रोड पर लालपुल से सहारनपुर चौक के बीच करीब दो किलोमीटर हिस्से पर लोनिवि सड़क के री-साइक्लिंग का काम कर रहा है। यहां सड़क का स्तर काफी ऊंचा उठ गया है, इसके लिए ऊपरी परत को खुरच कर निकाला जा रहा है। लोनिवि के आग्रह पर पुलिस ने गुरुवार रात को करीब 11 बजे सड़क की एक लेन को बंद कर दिया था।

हालांकि, जिस स्थान पर बैरियर लगाए गए थे, वहां कोई पुलिस कर्मी भी तैनात नहीं था। रात को जब एक लेन पर वाहन दौड़ने लगे और किसी भी समय बड़े हादसे की आशंका बढऩे लगी तो सबसे पहले सहारनपुर चौक पर तैनात पुलिस कर्मियों को इसकी सूचना मिली।

जब उन्होंने बात दूसरे इलाके की पुलिस पर डाल दी तो पुलिस कंट्रोल रूम को भी इस अव्यवस्था की जानकारी दी गई। गंभीर यह कि कंट्रोल रूम ने फोन को सीसीटीवी सेक्शन को ट्रांसफर कर दिया गया। इस सेक्शन में देर रात ड्यूटी बजा रहे एक पुलिस कर्मी ने बिना समय गंवाए सीसीटीवी पर देखा कि लालपुल पर कोई पुलिस कर्मी तैनात नहीं है और वाहन एक लेन पर ही दौड़ रहे हैं। फिर भी उन्होंने कुछ नहीं किया और इतना कहकर फोन काट दिया कि यातायात पुलिस कर्मी अब जा चुके हैं।

बीच के दोनों कट भी थे बंद

सहारनपुर रोड पर गलत लेन पर वाहन चालक कई बार बीच के दो कट से अपनी लेन में चलने की कोशिश करने लगे तो पता चला कि दोनों कट को फीता लगाकर बंद कर दिया गया है। ऐसे में मजबूरी में उन्हें पूरे दो किलोमीटर गलत दिशा पर ही चलना पड़ा।

सड़क 11 बजे बंद, दो बजे तक भी काम नहीं

लोनिवि व पुलिस के बीच का सामंजस्य देखिए कि पुलिस ने अपनी जिम्मेदारी ऐसी टाली कि 11 बजे ही सड़क की एक लेन बंद कर दी, जबकि रात दो बजे तक भी लोनिवि सड़क पर ऊपरी परत खुरचने का काम शुरू नहीं कर पाया था।

नवंबर में भी हटाई गई थी परत

लोनिवि की कार्यशैली देखिए कि नवंबर में भी सड़क के शुरुआती हिस्से (लालपुल की तरफ) से परत हटाकर करीब 25 लाख रुपये से पेंटिंग की गई थी, जबकि अब फिर से पूरी सड़क को खुरचकर करीब 87 लाख रुपये और खपाने की तैयारी की जा रही है।

लोनिवि निर्माण खंड के सहायक अभियंता एमएस नेगी के अनुसार तब ठंड बढ़ जाने के कारण तारकोल का काम संभव नहीं हो पा रहा था, लिहाजा अब काम शुरू किया गया है।

डेंजर जोन बनी सड़क

लोनिवि ने सड़क की ऊपरी परत को खुरचकर उस पर से निकले कंकड़ों को साफ नहीं किया है। ऐसे में सड़क के करीब डेढ़ किलोमीटर हिस्से पर कंक्कड़ों की भरमार है। जिस पर कभी भी कोई दुपहिया वाहन रपट सकता है।

Leave a Comment