Share
डिप्रेशन के चलते एसजीजीआर कॉलेज के छात्र ने की आत्महत्या

डिप्रेशन के चलते एसजीजीआर कॉलेज के छात्र ने की आत्महत्या

देहरादून: एसजीजीआर कॉलेज के छात्र ने पंखे में फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। मृतक उत्तरकाशी जिले का रहने वाला था और यहां देहराखास में पिछले दो साल से किराये के कमरे में रह रहा था। वह एसजीआआर कॉलेज में बीएससी माइक्रोबॉयलोजी तृतीय वर्ष का छात्र था। बताया जा रहा है कि मृतक कई दिन से डिप्रेशन में चल रहा था। तबियत खराब होने के कारण विगत 18 जुलाई से वह अवकाश पर चल रहा था।

कंट्रोल रुम से कोतवाली पटेलनगर पुलिस को सूचना मिली कि देहराखास में एक युवक ने फांसी लगाकर आत्महत्या कर ली। सूचना पर पटेलनगर से पुलिस मौके पर पहुंची। मृतक की पहचान शिवम शर्मा (23वर्ष) पुत्र प्रमोद कुमार शर्मा, निवासी राज राजेश्वर कॉलोनी देहराखास पटेलनगर  के रूप में हुई।

वह मूल रूप से गणेशपुर, उत्तरकाशी का रहने वाला था। पूछताछ में आसपास के लोगों ने बताया कि शिवम दो साल से यहां किराये के कमरे में रह रहा था। वह यहां एसजीआरआर कॉलेज में बीएससी माइक्रोबायोलोजी तृतीय वर्ष का छात्र था।

एक सप्ताह पहले ही मां भी उसके साथ रहने आई थी। बताया जा रहा है कि उसकी मां शाम के समय कहीं गई हुई थी। देर शाम लौटी तो देखा कि शिवम ने अंदर से दरवाजा बंद कर रखा था। काफी खटखटाने के बाद भी जब उसने दरवाजा नहीं खोला तो उन्होंने खिड़की से अंदर झांका। अंदर शिवम पंखे से चुन्नी के सहारे लटका हुआ था।

इसके तुरंत बाद उन्होंने आसपास के लोगों को सूचित कर दरवाजा तोड़ा और शिवम को पंखे से नीचे उतारकर 108 की मदद से श्री महंत इंदिरेश अस्पताल पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

एसआइ राजेन्द्र सिंह पुजारा ने बताया कि पूछताछ में पता चला कि शिवम डिप्रेशन में चल रहा था और उसका इलाज मंहत इंदिरेश अस्पताल से चल रहा था। विगत 18 जुलाई से 24 जुलाई तक उसने कॉलेज से मेडिकल अवकाश भी लिया था।

Leave a Comment