भाजपा मुख्‍यालय लाया गया सुषमा का पार्थिव शरीर

Sushma Swaraj Passes Away @67 Live Updates: भाजपा मुख्‍यालय लाया गया सुषमा का पार्थिव शरीर

नई दिल्ली पूर्व विदेश मंत्री और भारतीय जनता पार्टी की कद्दावर नेता सुषमा स्वराज का मंगलवार की देर रात दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। वह 67 वर्ष की थीं। सुषमा स्वराज के निधन से हर कोई दुखी है। पीएम नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, राहुल गांधी समेत देश-दुनिया के नेताओं ने उनके निधन पर शोक जताया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि जब विचारधारा और भाजपा के हितों का मामला होता था तो वह कभी समझौता नहीं करती थीं। इस बीच हरियाणा और दिल्‍ली की सरकारों ने पूर्व विदेश मंत्री के सम्‍मान में दो दिन के राजकीय शोक की घोषणाएं की है।

Embedded video

वरिष्‍ठ अधिवक्‍ता हरिश साल्‍वे ने कहा कि मेरे लिए सुषमा स्‍वराज बड़ी बहन थीं। कल उनके निधन की खबर सुनकर में सन्‍न रह गया। मैंने शाम को 8:45 बजे उनसे बात की थी। उन्‍होंने मुझसे कहा था कि जाधव मामले में मुझे एक रुपये की फीस लेनी होगी। उन्‍होंने 10 मिनट पहले ही ट्विटर पर पोस्‍ट किया था। इसके बाद उन्‍हें दिल का दौरा पड़ने की खबर आई।

भाजपा नेता एवं पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज का पार्थीव देह भाजपा मुख्‍यालय ले जाया गया है।भारत में चीन के राजदूत सुन वेइदोंग ने कहा कि सुषमा स्‍वराज के निधन की खबर से दुखी हूं। चीन-भारत के संबंधों को मजबूती देने में उन्‍होंने सराहनीय योगदान दिया। उनके परिवार के प्रति मेरी गहरी संवेदना है।

दिल्‍ली सरकार ने दो दिन के राजकीय शोक की घोषणा की है। इन दो दिनों के दौरान राज्‍य में कोई भी सांस्‍कृतिक कार्यक्रम नहीं होंगे। हालांकि, सभी सरकारी कार्यक्रम निर्धारित समय के अनुसार जारी रहेंगे। आंगनवाड़ी कार्यक्रम भी इंदिरागांधी इंडोर स्‍टेडियम में जारी रहेगा।

रूस के विदेश मंत्रालय ने कहा कि हम इस मैत्रीपूर्ण देश के पूर्व विदेश मंत्री के निधन पर भारत के लोगों के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करते हैं। भाजपा सांसद हेमा मालिनी भी पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज को श्रद्धांजलि देने के लिए उनके आवास पर पहुंची।

केरल के पूर्व मुख्‍यमंत्री ओमन चांडी पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्‍वराज को श्रद्धांजलि देने उनके आवास पर पहुंचे।

पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि मैं उन्‍हें साल 1990 से जानती हूं। भले ही हमारे वैचारिक मतभेद रहे लेकिन हमने संसद में मैत्रीपूर्ण संबंध बनाए। वह एक बेजोड़ नेता, अच्‍छी इंसान थीं। हमें उनकी याद आएगी।

भाजपा सांसद रमा देवी ने कहा कि जब तक उनकी सांस चलती रहेगी मैं सुषमा जी से जुड़ी रहूंगी। वह दुनिया छोड़कर गई हैं लेकिन अच्‍छी जगह पर रहेंगी।
बसपा प्रमुख मायावती पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को दिल्ली में उनके निवास पर पहुंचकर श्रद्धांजलि दी। उन्होंने कहा सुषमा स्वराज जी का निधन व्यक्तिगत रूप से दुखी हूं। वह एक सक्षम राजनेता, प्रशासक और मंत्री थीं। विपक्षी सदस्यों के साथ भी उनका व्यक्तित्व बहुत ही मिलनसार था। भगवान उनके परिवार को इस नुकसान को सहने की ताकत दे।

मंगलवार शाम को केंद्र सरकार को ट्वीट कर अनुच्छेद 370 हटने पर बधाई देने के कुछ ही घंटों बाद उन्हें दिल का दौरा पड़ा। अस्पताल के सूत्रों के मुताबिक उन्हें बेहद नाजुक हालत में एम्स में देर रात 10.15 बजे भर्ती कराया गया। सुषमा स्वराज ने अपने स्वास्थ्य कारणों के चलते ही वर्ष 2019 में लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लिया था। उन्होंने वर्ष 2016 में अप्रैल में एम्स से ही किडनी ट्रांसप्लांट कराया था।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *