Share
अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत टास्क फोर्स ने शहर में किए 29 अतिक्रमण ध्वस्त

अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत टास्क फोर्स ने शहर में किए 29 अतिक्रमण ध्वस्त

देहरादून: हाईकोर्ट के आदेश पर चल रहे अतिक्रमण हटाओ अभियान के तहत टास्क फोर्स ने सोमवार को शहर में 29 अतिक्रमण ध्वस्त किए। इस दौरान अलग-अलग सड़कों पर 70 नए अतिक्रमण पर लाल निशान लगाए गए। इधर, वनस्थली में लोगों ने दोहरी कार्रवाई का विरोध किया। यहां लोगों ने अतिक्रमण हटाने के लिए दो दिन का वक्त मांगते हुए सभी गलियों से अतिक्रमण हटाने की मांग की।

सोमवार को टास्क फोर्स ने बल्लूपुर से वनस्थली की लेन एक में और धर्मपुर चौक से मोथरोवाला रोड पर अभियान शुरू किया। यहां 29 नए अतिक्रमण ध्वस्त किए गए। इस दौरान वनस्थली में लोगों ने एक गली में ध्वस्तीकरण और अन्य को छोडऩे पर विरोध किया। इस पर सिटी मजिस्ट्रेट मनुज गोयल और एसडीएम मीनाक्षी पटवाल ने लोगों को निष्पक्ष कार्रवाई का भरोसा दिया। लोगों ने जेसीबी से ध्वस्तीकरण के बजाय स्वयं अतिक्रमण हटाने के लिए दो दिन का समय मांगा है। इस पर अफसरों ने कार्रवाई रोकते हुए लोगों को दो दिन का समय दे दिया है। इधर, मोथरोवाला रोड पर एसडीएम प्रत्यूष सिंह और एसडीएम चकराता बृजेश तिवारी के नेतृत्व में अभियान चलाया गया। हालांकि यहां अधिकांश अतिक्रमण लोगों ने स्वयं ही हटा दिए थे।

सरकारी जमीन से स्वयं हटाएं अतिक्रमण 

अपर मुख्य सचिव ओमप्रकाश ने कहा कि सार्वजनिक मार्गों से अतिक्रमण हटाने का कार्य तेजी से किया जाए। उन्होंने आम लोगों से अपील की कि यदि किसी ने सरकारी जमीन पर अतिक्रमण किया है तो लाल निशान लगते ही हटा दें। उन्होंने कहा कि दोबारा अतिक्रमण करने वालों के खिलाफ सीधे मुकदमे की कार्रवाई की जाएगी।

आज यहां हटाया गया अतिक्रमण 

मंगलवार को बल्लूपुर चौक से कैनाल रोड के बीच चिह्नित अतिक्रमण हटाया गया। इसके अलावा कमला पैलेस से निरंजपुर मंडी आइएसबीटी के बीच और मोथरोवाला रोड पर शेष अतिक्रमण हटाया गया।। इसके अलावा चिह्नीकरण की कार्रवाई भी जारी रही।

ढुलमुल रवैये के चलते विरोध कर रहे लोग 

हाईकोर्ट के आदेश पर अतिक्रमण हटाओ अभियान की कार्रवाई में अफसरों का ढुलमुल रवैया सामने आने लगा है। हाईकोर्ट के सख्त आदेश के बावजूद ध्वस्तीकरण में ढील बरतने के खिलाफ लोग खुलकर बोलने लगे हैं। प्रेमनगर और राजपुर क्षेत्र में अतिक्रमण पर अफसरों की चुप्पी के बाद दूसरे क्षेत्रों के लोग भी विरोध कर रहे हैं। वहीं, अभियान की रफ्तार सुस्त पड़ने से भी आम लोग नाराज हैं।

करनपुर में दोबारा लाल निशान पर भड़के व्यापारी

हाईकोर्ट के आदेश पर हटाए जा रहे अतिक्रमण के विरोध में अब व्यापारी खुलकर आने लगे हैं। सोमवार को करनपुर बाजार में दोबारा अतिक्रमण पर लाल निशान लगाए गए तो व्यापारी भड़क गए। उन्होंने बाजार बंद कर प्रशासन की कार्रवाई का विरोध किया। कहा कि गलत सीमांकन को ठीक न कराया गया तो उग्र आंदोलन किया जाएगा।

करनपुर बाजार में टास्क फोर्स अधिकांश अतिक्रमण हटा चुकी है। मगर, डीएवी कॉलेज के पास माहेश्वरी स्वीट शॉप का मामला कोर्ट में लंबित होने के चलते कार्रवाई रोकी गई है। बताया गया कि हाईकोर्ट ने यहां अतिक्रमण हटाने के पक्ष में आदेश दिए हैं। इस मामले में स्वीट शॉप के मालिक ने दूसरी तरफ दुकानें कर ली हैं। मगर, यहां सोमवार को आई टीम ने लाल निशान लगा दिए। कहा कि पहले ही उनकी दुकान पर दो बार लाल निशान लगाए गए। अब तीसरी बार नई और पुरानी दुकान पर निशान लगा दिए गए। इस पर व्यापारी भड़क गए। इसकी सूचना दून उद्योग व्यापार मंडल को दे दी।  इसके बाद व्यापारियों ने बाजार बंद करते हुए सर्वे चौक के पास प्रदर्शन किया। देर शाम व्यापारियों का शिष्टमंडल एसडीएम प्रत्यूष सिंह से मिला। इस मामले में प्रशासन ने पांच सदस्यीय टीम गठित कर दोबारा सीमांकन का भरोसा दिया है।

इस दौरान व्यापारी नेता उमेश अग्रवाल, अनिल गोयल, विपिन नागलिया, प्रवीण जैन, सुनील मेसोन, संजीव बंसल, आशु माहेश्वरी, जितेंद्र कपूर, सुशील शर्मा, अनिल रस्तोगी, सचदेवा, हरीश जिंदल, अनुज जैन, गौरव कुमार आदि मौजूद रहे।

Leave a Comment