Share
ईंट और पत्थरों से सिर कुचलकर की युवक की हत्या

ईंट और पत्थरों से सिर कुचलकर की युवक की हत्या

देहरादून: कोतवाली डालनवाला क्षेत्र में एक युवक का ईंट और पत्थरों से सिर कुचलकर हत्या कर दी गई। युवक का शव नालापानी चौक के पास नाली में पड़ा मिला। पुलिस हत्या की वजह पुरानी रंजिश मान रही है। घटनास्थल के आसपास मिले साक्ष्यों के आधार पर पुलिस मृतक के पड़ोसी युवक पर हत्या का संदेह जता रही है। हालांकि, पुलिस को आशंका है कि वारदात को एक से अधिक लोगों ने अंजाम दिया है। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि मृतक के भाई की तहरीर पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। हत्यारोपियों की तलाश की जा रही है। एक दर्जन से ज्यादा संदिग्धों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है। घटनास्थल के आसपास के सीसीटीवी फुटेज भी जुटाए जा रहे हैं।

बुधवार देर रात कंट्रोल रूम में किसी महिला ने नालापानी चौक के पास एक युवक का शव पड़े होने की सूचना दी। डालनवाला पुलिस मौके पर पहुंची तो देखा एक शव नाली में पड़ा है और उसका सिर किसी पत्थर या ईंट से कुचला गया है। मृतक की शिनाख्त 22 वर्षीय अश्वनी उर्फ अंडा पुत्र स्व. धर्मपाल निवासी रतन चौक, डीएल रोड, डालनवाला के रूप में हुई। बाद में एसएसपी निवेदिता कुकरेती, सीओ डालनवाला जया बलूनी, डाग स्क्वॉड व एफएसएल की टीम भी मौके पर पहुंच गई।

पुलिस ने घटनास्थल व आसपास के क्षेत्र से साक्ष्य जुटाए। एसएसपी निवेदिता कुकरेती ने बताया कि प्रारंभिक जांच व घटनास्थल पर मिले साक्ष्यों के आधार पर ऐसा लग रहा है कि पहले मृतक के सिर पर किसी भारी वस्तु से वार किया गया। उसके बाद ईंट और पत्थरों से कुचलकर हत्या कर दी गई। पुलिस को इस मामले में अहम सुबूत मिले हैं। जल्द ही हत्यारों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।

पड़ोसी युवक की ओर घूमी शक की सुई 

घटनास्थल पर पहुंची पुलिस ने जब जांच शुरू की तो मौके पर काफी खून फैला हुआ था। वहीं पर खून से सने पंजों के निशान भी मिले। एसएसपी ने बताया कि पुलिस जब पंजों के निशान का पीछा करते हुए आगे बढ़ी तो एक दरवाजे पर खून लगा मिला। पूछताछ में पता चला कि उसी घर का एक युवक गायब है। हालांकि एसएसपी का कहना है कि अभी यह पुख्ता नहीं है कि युवक की हत्या पड़ोसी शामिल था या नहीं, लेकिन इस पहलू की जांच की जा रही है। उन्होंने कहा कि हत्या में एक से ज्यादा लोगों की संलिप्तता हो सकती है।

टैंट मालिक से थी रंजिश 

पुलिस के मुताबिक, अश्वनी की हत्या का कारण रंजिश भी हो सकती है। इसकी छानबीन शुरू कर दी गई है। बताया कि क्षेत्र में नशे का कारोबार चलता है। कुछ साल पहले अश्वनी ने इस मामले में क्षेत्र के एक टैंट कारोबारी की शिकायत की थी। तब से वह उससे रंजिश रखता था। जान बचाने को किया संघर्ष घटनास्थल के आसपास मिले साक्ष्य से लगता है कि अश्वनी ने अपनी जान बचाने के लिए काफी संघर्ष किया था और वह दौड़ा भी था। क्योंकि जिस जगह उसका शव पड़ा था, उससे कुछ दूरी तक खून के निशान मिले हैं। साथ ही खून के छीटें आसपास भी फैले हुए हैं।

Leave a Comment