सदन में हंगामा,वंदे मातरम के बिना शुरू हुआ,नियम का उल्लंघन है

महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाली सरकार को आज विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना है। पक्ष और विपक्ष दोनों ही विधनसभा में पहुंच गए हैं। सदन की कार्यवाही शुरु होते ही हंगामा हो गया है।  भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस ने सत्र में नियम उल्लंघन का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि विधानसभा का सत्र बिना वंदे मातरम के शुरू किया गया, ये सदन के नियमों का उल्लंघन है। वहीं, प्रोटेम स्पीकर दिलीप पाटिल ने कहा कि गर्वनर ने इस सत्र की इजाजत दी है और नियमों के अनुसार ही सत्र शुरु किया गया है।

उद्धव ठाकरे ने अपने मंत्रियों का सदन में सबका परिचय करवाया। वहीं, प्रोटेम स्पीकर ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के मुताबिक, इसका लाइव टेलीकास्ट किया जा रहा है इसलिए आप अपने विधायकों को शांत करवाएं।

प्रोटेम स्पीकर बदले जाने का उठाया गया मुद्दा

विपक्ष नेता देवेंद्र फडणवीस ने प्रोटेम स्पीकर के बदले जाना का मुद्दा उठाया है। उन्होंने सवाल करते हुए पूछा कि प्रोटेम स्पीकर को बदलने की क्या जरुरत थी। साथ ही फडणवीस ने कहा कि बिना प्रोटेम स्पीकर के मंत्रियों का शपथ ग्रहण कैसे हो सकता हैं।

तीनों दलों ने विधायकों को जारी किया व्हिप

इससे पहले  शिवसेना और एनसीपी ने अपने विधायकों को व्हिप जारी करते हुए आज विधानसभा में उपस्थित रहने का निर्देश दिया था।  कांग्रेस ने भी अपनी विधायकों को तीन लाइनों की व्हिप जारी की है। महाविकास आघाड़ी (कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना) के बहुमत परीक्षण से पहले महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस भी महाराष्ट्र के विधानभवन पहुंचे।

वहीं,शिवसेना के नेता संयज राउत ने ट्वीट कर 170 से अधिक विधायकों के समर्थन का दावा किया है। उन्होंने ट्वीट कर कहा कि आज बहुमत साबित करने का दिन 170+++++……..। आगे लिखा कि हमको मिटा सके ये जमाने में दम नहीं, हमसे जमाना खुद है… जमाने से हम नहीं।

तीनों दलों के पास इतने विधायक

तीन दलों (कांग्रेस, एनसीपी और शिवसेना) का गठबंधन महा विकास अघाड़ी में शिवसेना के पास 56, एनसीपी के पास 54 और कांग्रेस के पास 44 विधायक हैं। बहुमत साबित करने के लिए बहुमत का आंकड़ा 145 है जबकि, महागठबंधन के पास विधायकों की संख्या 154 है। इसके बाद रविवार को ही विधानसभा के अध्यक्ष का चुनाव किया जाएगा। साथ ही विरोधी पक्ष नेता की भी घोषणा होगी। रविवार को ही राज्यपाल अपना अभिभाषण भी देंगे।  आज दोपहर 2 बजे बहुमत साबित किया जाएगा।

 गवर्नर ने दिया था 3 दिसंबर तक का समय

उद्धव ठाकरे को पहले गवर्नर ने 3 दिसंबर तक बहुमत साबित करना का समय दिया गया था। लेकिन, मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद से ही जल्द से जल्द साबित करना चाहते हैं। कहा जा रहा है ठाकरे जल्दी कैबिनेट विस्तार करना चाहते हैं। बहुमत परीक्षण से पहले महा विकास अघाड़ी ने भाजपा के कालिदास कोलंबकर को प्रोटेम स्पीकर से हटा दिया गया है और एनसीपी के दिलीप वलसे पाटिल को नया प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया गया है। महाराष्ट्र में हुए सियासी घमासान के बाद मंगलवार को महा विकास अघाड़ी ने मुंबई के ग्रैंड हयात होटल में 162 विधायकों के समर्थन का दावा किया था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *