Share
महागठबंधन के मंच पर नेताओं की फिसली जुबान, भाजपा को घेरने के चक्कर में खुद घिरी कांग्रेस

महागठबंधन के मंच पर नेताओं की फिसली जुबान, भाजपा को घेरने के चक्कर में खुद घिरी कांग्रेस

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए दक्षिण गोवा संसदीय निर्वाचन क्षेत्र के भाजपा के बूथ स्तर के कार्यकर्ताओं से संवाद कर रहे हैं। इस दौरान उन्होंने भाजपा कार्यकर्ताओं की ईमानदारी और जज्बे की तारीफ की। उन्होंने कहा कि भाजपा के कार्यकर्ताओं में जज्बा, ईमानदारी, काम के प्रति लगन कूट-कूटकर भरी है। मैं तो यही कहूंगा कि भाजपा संगठन आधारित राजनीतिक आंदोलन है।

उन्होंने आगे कहा कि कार्यकर्ताओं के संघर्ष और पार्टी को आगे ले जाने के लिए उनके द्वारा दिन-रात की जा रही कोशिश को देखर मुझे बड़ा संतोष होता है। उन्होंने कांग्रेस पर निशान साधते हुए कहा कि पुरानी सरकार के कार्यकाल के कारण राजनीतिक कार्यकर्ताओं की पहचान दलालों के रूप में होने लगी थी, लेकिन भाजपा के कार्यकर्ता की पहचान मां भारती के लाल के रूप में होती है।

विपक्षी गठबंधन पर बोले पीएम

विपक्षी गठबंधन के सवाल पर पीएम मोदी ने कहा, ‘उन्होंने भी गठबंधन किया है और हमने भी किया है। उन्होंने दलों के साथ किया है और हमने देश की सवा सौ करोड़ जनता से किया है। आप लोग बताइए कौन सा गठबंधन ज्यादा बढ़िया है।’

ममता की रैली पर उठाए सवाल
पश्चिम बंगाली की सीएम ममता बनर्जी की रैली पर सवाल उठाते हुए पीएम मोदी ने कहा, ‘वहां मंच पर मौजूद नेताओं में ज्यादातर लोग किसी बड़े नेता के बेटे थे। कुछ ऐसे भी थे जो अपने बेटे-बेटी को सेट करने में लगे हैं। उनके पास धनशक्ति है और हमारे पास जनशक्ति है।’

उन्होंने कहा कि विपक्ष के लोगों को किसी भी संस्था पर भरोसा नहीं है, इसलिए ये संवैधानिक संस्थाओं को बदनाम करने की कोशिश करते रहते हैं। जिस मंच से ये लोग लोकतंत्र बचाने की बात कर रहे थे, वहीं पर एक नेता ने बोफोर्स घोटाले की याद दिला दी। आखिर सच जुबान पर आ ही जाता है। विपक्ष के लोगों ने तो हार के बहाने भी खोज लिए। ये लोग अभी से ईवीएम पर सवाल उठाने लग गए हैं।

सवर्ण आरक्षण पर पीएम मोदी ने क्या कहा
गरीब सवर्ण आरक्षण पर पीएम मोदी ने कहा कि मौके कम होने के बजाय संविधान संशोधन द्वारा 10 प्रतिशत आरक्षण से अवसरों का नया द्वार खुलेगा। हम शिक्षण संस्थानों में 10 प्रतिशत सीटें भी बढाएंगे। किसी भी पिछड़े दलित या अनुसूचित जाति के लोगों का हक छीना नहीं जाएगा।

#5YearChallenge को बताया रचनात्मक
#5YearChallenge पर पीएम मोदी ने कहा कि 5 साल के अंतर को दिखाने के लिए लोग जैसी रचनात्मकता का प्रयोग कर रहे हैं, मैं उससे बहुत प्रभावित हूं। 5 साल पहले दुनिया का भारत को देखने का नजरिया अलग था क्योंकि 5 साल पहले घोटालों, बिजली संकट और आर्थिक तंगी जैसी खबरे आती थीं लेकिन अब दुनिया का भरोसा भारत में और लोगों का भरोसा सरकार में बढ़ा है। पहले दुनिया में चर्चा होती थी कि भारत दुनिया की 5 सबसे कमजोर अर्थव्यवस्था में से एक है। लेकिन अब भारत दुनिया की सबसे तेजी से आगे बढ़ने वाली अर्थव्यवस्था है।

शरद यादव की फिसली जुबान
आगामी लोकसभा चुनाव में सभी विपक्षी दलों को साथ लाने की पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी की कवायद के तहत शनिवार को यहां आयोजित विशाल रैली में एक दर्जन से अधिक विपक्षी दलों के नेता एक मंच पर नजर आए। इसी बीच ममता की रैली में संबोधित करने आए शरद यादव भाजपा को घेरने के चक्कर में कांग्रेस पर निशाना साध बैठे। शरद यादव राफेल के जरिए भाजपा को घेरने वाले थे, लेकिन वे राफेल घोटाले की जगह बोफोर्स घोटाले पर ही बोलने लगे। हालांकि, जब उन्हें अपनी गलती का अहसास हुआ तो उन्होंने सफाई देते हुए कहा कि माफ कीजिएगा, मैं राफेल की बात कर रहा था। भाजपा ने अपने ट्विटर अकाउंट पर इस वीडियो का एक हिस्सा शेयर भी किया है और लिखा कि महागठबंधन के मंच पर आखिर नेताओं की जुबान से निकला सच।

Leave a Comment