Share
मकान की नींव खोदते वक्त मलबे में दबे महिला समेत तीन मजदूर, महिला की मौत

मकान की नींव खोदते वक्त मलबे में दबे महिला समेत तीन मजदूर, महिला की मौत

मसूरी: कोल्हूखेत के पास एक मकान की नींव खोदते वक्त महिला समेत तीन मजदूर मलबे में दब गए। पुलिस व स्थानीय लोगों ने तीन घंटे की मशक्कत के बाद उन्हें मलबे से निकालकर अस्पताल पहुंचाया, जहां डाक्टरों ने महिला मजदूर को मृत घोषित कर दिया। जबकि दो अन्य मजदूरों का इलाज चल रहा है।

पुलिस के अनुसार, मसूरी-देहरादून हाईवे पर कोल्हूखेत से लगभग दो किमी नीचे पानी वाले बैंड के पास डोमगांव की सीमा में अक्षय शांतिकुंज में भवन निर्माण चल रहा है। वहां 10-15 मजदूर काम कर रहे हैं।

मंगलवार दोपहर को भवन की नींव खोद रहे तीन मजदूर अचानक मलबे में दब गए। उनके दबने की सूचना मिलते ही मौके पर हड़कंप मच गया। आसपास के लोगों ने घटना की सूचना पुलिस को दी।
इसके बाद मौके पर पहुंचीं कोतवाल भावना कैंथोला ने पुलिसकर्मियों और स्थानीय लोगों की मदद से रेस्क्यू शुरू किया। लगभग तीन घंटे की मशक्कत के बाद तीनों मजदूरों को मलबे से निकालकर देहरादून स्थित मैक्स अस्पताल पहुंचाया गया। जहां डाक्टरों ने महिला मजदूर को मृत घोषित कर दिया। घायलों में एक मैक्स तो दूसरे का इलाज दून अस्पताल में चल रहा है।

महिला मजदूर अंजनी (35) पत्नी सुरेंद्र निवासी ग्राम कुंडा पोस्ट लारिया सराय, दरभंगा, बिहार की रहने वाली थी। घायलों की पहचान हर्षदिन और नागेंद्र उर्फ बंटू दोनों निवासी दिवाली गड़ी, भिवाड़ी, मध्य प्रदेश के रूप में हुई है।

Leave a Comment