Share
जैश-ए-मुहम्मद के दो सक्रिय सदस्यों को यूपी से किया गिरफ्तार

जैश-ए-मुहम्मद के दो सक्रिय सदस्यों को यूपी से किया गिरफ्तार

लखनऊ। उत्तर प्रदेश एटीएस को आज बड़ी सफलता मिली है। एटीएस की टीम ने तड़के सहारनपुर के देवबंद से शाहनवाज नामक शख्स को गिरफ्तार किया है। उसका एक साथी भी पकड़ा गया है। यह दोनों जैश-ए-मुहम्मद के सक्रिय सदस्य हैं। यह युवाओं को जैश-ए-मुहम्मद में भर्ती करने के काम में लगे थे।

उत्तर प्रदेश के डीजीपी ओपी सिंह ने कहा कि शाहनवाज आतंकी संगठन जैश-ए-मुहम्मद का एक्टिव मेम्बर है। डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि इन दोनों के पास से बड़ी मात्रा में आपत्तिजनक सामग्री भी बरामद की गई है। कल रात में सहारनपुर में देवबंद से दोनों आतंकियों को गिरफ्तार किया गया है। इनके नाम शाहनवाज अहमद तेली और आकिब अहमद हैं। यह दोनों बिना एडमिशन के देवबंद में रह रहे थे। इनके पास से .32 बोर की दो पिस्टल तथा गोलियां मिली हैं। इसके साथ ही दोनों के पास से जिहादी ऑडियो, वीडियो और लिखित सामग्री भी बरामद हुई है। आज ही इनको एटीएस कोर्ट में पेश कर रिमांड पर लिया जाएगा।

डीजीपी ओपी सिंह ने बताया कि इन दोनों में बेहद सक्रिय जैश आतंकी शाहनवाज अहमद तेली कश्मीर के कुलगाम का रहने वाला है। आकिब अहमद पुलवामा का रहने वाला है। हम इनके बाकी साथियों की तलाश कर रहे हैं।डीजीपी ने बताया आतंकी शाहनवाज अहमद तेली का काम आतंकियों की भर्ती कराना था। उसका शुरुआती काम लोगों का ब्रेनवॉश कराने का भी था। वह ग्रेनेड इस्तेमाल में एक्सपर्ट है। इस कार्रवाई में हम जेके पुलिस के साथ लगातार संपर्क में रहे।

उन्होंने कहा कि शाहनवाज लंबे समय से जैश के नेटवर्क के लिए भर्ती करने का काम कर रहा था। देवबंद में भी नई भर्ती के लिए कई लड़कों के संपर्क में था। इस बात की जांच की जा रही है कि इन लोगों ने अब तक कितने लोगों की भर्ती कराई है और उनका टॉरगेट क्या था। इनके साथ ही काफी लोगों को हिरासत में लिया गया है। उन सब से भी अलग-अलग जगह पर पूछताछ चल रही है। इन दोनों की उम्र 20-25 वर्ष के बीच है। उन्होंने कहा कि इन दोनों का पुलवामा आतंकी हमले से लिंक है या नही ये कहना अभी मुश्किल है। हम पूछताछ के बाद ही यह क्लियर कर पाएंगे।

शाहनवाज जम्मू-कश्मीर में जैश-ए-मोहम्मद के इशारे पर काम करता था। शाहनवाज के साथ हिरासत में लिए गए दोनों कश्मीरियों को पुलवामा आतंकी हमले की पूरी जानकारी थी। उनके मोबाइल से जैश ए मोहम्मद सहित तमाम आतंकियों की वीडियो बरामद किया गया है। आतंकी हमले से जुड़ी जानकारियां भी एटीएस को मिलीं। शाहनवाज जैश-ए-मोहम्मद के इशारे पर युवाओं को आतंकियों की टीम में भर्ती कराता था। पुलिस कस्टडी रिमांड पर पूछताछ होगी। दोनों यह छात्र बनकर देवबंद के एक संस्थान में अवैध ढंग से रहकर अन्य युवको को आतंकी संगठन से जोड़ने का काम कर रहे थे।

डीजीपी ने कहा कि हमारी टीम ने बेहद शानदार काम किया है। आगे टीम को सम्मानित किया जाएगा। यूपी एटीएस इससे पहले भी कई आतंकियों को गिरफ्तार कर चुकी है। इससे पहले यूपी एटीएस ने आइएसआइएस के तर्ज पर बनाए जा रहे मॉड्यूल का खुलासा किया था।

इससे पहले उत्तर प्रदेश एटीएस ने देवबंद में तड़के छापा मारकर संदिग्धों से पड़ताल की है। देवबंद से कश्मीर के साथ ओडिशा के कुछ छात्रों को हिरासत में लिया गया। एटीएस ने कल देर रात से देवबंद में छापा मारने का अभियान शुरू किया था। यहां एटीएस ने मोहल्ला खानकाह के निकट नाज मंजिल में छापेमारी कर एक दुकानदार सहित दो कश्मीरी छात्र व पांच ओडिशा के छात्रों को हिरासत में लिया। सहारनपुर पुलिस को इस बड़ी छापामारी की भनक तक नहीं लगी। एटीएस सभी को अपने साथ गुप्त स्थान पर ले गई है। एटीएस ने सुबह की गई कार्रवाई में 11 कश्मीरी के साथ उड़ीसा के कुछ छात्रों को हिरासत में लिया था, जिनमें से शाहनवाज समेत एक अन्य छात्र को गिरफ्तार कर लिया गया।

देवबंद के छात्रों में गुस्सा

जैश के इस मॉड्यूल को पकडऩे के लिए यूपी एटीएस ने कल सहारनपुर के देवबंद में छापेमारी की थी। कई घरों और हॉस्टल्स में तलाशी ली गई। इस तलाशी में पुलिस ने काफी मात्रा में संदिग्ध सामग्री भी बरामद की गई है। एटीएस की छापेमारी में देवबंद के छात्रों में गुस्सा है। इस्लामिक स्टडी के बड़े सेंटर के रूप में विख्यात सहारनपुर के देवबंद में यूपी एटीएस के इस छापा से खलबली मची है। सहारनपुर के देनबंद से यह पहली दफा किसी आतंकी को गिरफ्तार नहीं किया गया। इससे पहले भी कई आतंकवादियों को यहां से दबोचा है।

जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में 14 फरवरी को आतंकी हमला हुआ था। यह हमला जैश-ए-मोहम्मद के आत्मघाती हमलावर ने किया था। जिसमें भारत के 40 जवान शहीद हुए थे। माना जा रहा है कि जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शाहनवाज का हाथ हो सकता है।

देवबंद में प्राइवेट हास्टल में था आतंकी शहनवाज

एटीएस ने रात दो बजे देवबंद से जैश ए मुहम्मद आतंकी शाहनवाज अहमद निवासी कुलगाम जम्मू-कश्मीर को गिरफ्तार किया है। एटीएस ने देवबंद के मोहल्ला खानकाह स्थित नाज मंजिल नाम के एक प्राइवेट हास्टल पर छापामारी करते हुए 7 संदिग्धों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार युवकों में एक शहनवज अहमद तेली है जो कशमीर के कुलगाम का रहने वाला है। वह आतंकियों की भर्ती की तैयारी में लगा था। टीम यहां कम से पांच तलबाओ (छात्रों) को अपने साथ ले गई। हालांकि हॉस्टल में रह रहे अन्य का दावा है कि टीम अपने साथ 12 तलबाओं को उठाकर ले गई हैं इनमें ओडिशा और जम्मू-कश्मीर के तलबा भी शामिल हैं। पुलवामा अटैक के बाद एक बार फिर से देवबंद में रह रहे तलबाओं के एटीएस की रडार पर आने के बाद क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चाएं हैं। खानकाह पुलिस चौकी  के पास स्थित नाज मंजिल में छापेमारी की। यह प्राइवेट हॉस्टल है और इसमें बड़ी संख्या में तलबा रहते हैं। एसएसपी दिनेश कुमार ने छापेमारी की पुष्टि की है।

Leave a Comment