Share
केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमन ने चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति का किया घेराव, नवाज शरीफ से कर दी तुलना

केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमन ने चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति का किया घेराव, नवाज शरीफ से कर दी तुलना

नई दिल्ली । कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पूर्व वित्त मंत्री पी.चिदंबरम को एक बार फिर केंद्र सरकार ने निशाने पर लिया। कालाधन कानून के तहत आयकर विभाग की कार्रवाई को लेकर केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमन ने चिदंबरम और उनके बेटे कार्ति का जमकर घेराव किया। यहां तक की उन्होंने चिदंबरम की तुलना पनामा पेपर लीक मामले में फंसे पाकिस्तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ तक से कर दी। उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से सवाल किया कि जैसे नवाज शरीफ पर राजनीतिक प्रतिबंध लगाया गया, क्या वैसी कार्रवाई चिदंबरम पर करेंगे?

क्या चिदंबरम पर कार्रवाई करेंगे राहुल

उन्होंने कहा, ‘चिदंबरम ने अपनी और परिवार के सदस्‍यों की विदेशी संपत्ति का ब्यौरा 2014 लोकसभा चुनाव के लिए दिए गए हलफनामे में नहीं दिया, जो कानून का उल्‍लंघन है। इस कानून को तोड़ने के कारण उन्हें आयकर विभाग की कार्रवाई का सामना करना पड़ा। ऐसा ही मामला पाकिस्‍तान के पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ भी चल रहा है। पाक में नवाज पर कई प्रतिबंध लगाए गए हैं। क्या राहुल गांधी उन पर कोई कार्रवाई करेंगे।’

याद दिलाया ब्लैक मनी कानून

निर्मला सीतारमन ने ब्लैक मनी कानून की याद दिलाते हुए कहा कि अगर चिदंबरम पर आरोप तय होते हैं, तो उन्हें 10 साल जेल की सजा काटनी होगी और 120 फीसद पैनालिटी भी भरनी होगी। उन्होंने कहा कि हमने 2014 के अपने हलफनामे में कहा था कि हम कालाधन कानून लेकर आएंगे, जिसके तहत इसका उल्लंघन करने वालों पर सख्त कार्रवाई होगी और हम 2015 में ब्लैक मनी कानून लेकर आए। उन्होंने कहा, ‘चिदंबरम ने कालेधन कानून का उल्लंघन किया है।’

यूके, अमेरिका समेत 14 देशों में संपत्ति

निर्मला सीतारमन ने कहा कि लंदन के पास कैब्रिज में पी.चिदंबरम के नाम पांच करोड़ से भी ज्यादा की संपत्ति है। वहीं, 80 लाख की प्रॉपर्टी अमेरिका में है। उन्होंने कहा कि मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो 21 विदेशी खाते में उनके नाम हैं। 14 देशों में उनके नाम पर संपत्ति है।

नहीं दिया संपत्ति का ब्यौरा

चिदंबरम का निशाने पर लेते हुए सीतारमन ने कहा कि न तो उन्होंने 2009 में और न ही उसके बाद दाखिल अपने हलफनामे में संपत्ति का पूरा ब्यौरा दिया। वहीं, उनके बेटे कार्ति ने 2014 में अपनी संपत्ति की जानकारी नहीं दी। उन्होंने कहा कि अब समय आ गया है कि कांग्रेस के अध्यक्ष अपने वरिष्ठ नेता पर लगे आरोपों पर चुप्पी तोड़े और जवाब दें।

गौरतलब है कि आयकर विभाग ने पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम और उनके परिवार के खिलाफ बड़ी कार्रवाई करते हुए चार चार्जशीट दाखिल की है। आयकर विभाग ने शुक्रवार को चिदंबरम, उनके बेटे कार्ति, पत्नी नलिनि और बहू श्रीनिधि के खिलाफ कालेधन कानून के तहत चार्जशीट दाखिल की। चिदंबरम एवं उनके परिवार पर विदेशी संपत्ति का खुलासा न करने को लेकर यह याचिका दाखिल की गई है।

Leave a Comment