Share
उत्तराखंड में २४ जुलाई से ३ दिन होगी भारी बारिश

उत्तराखंड में २४ जुलाई से ३ दिन होगी भारी बारिश

देहरादून : उत्तराखंड में मानसून के तेवर कुछ नरम हों, लेकिन दिक्कतें बराबर बनी हुई हैं।  मौसम विभाग के पूर्वानुमान के मुताबिक रविवार को राज्य में अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम बारिश हुर्इ।

वहीं पिथौरागढ़ जिले के धारचूला और मुनस्यारी में भारी बाारिश हुर्इ, जबकि  टनकपुर में तवाघाट हाईवे गोठी के पास पहाड़ से मलबा आने से बंद।हो गया जिससे  दर्जनों वाहन वहां फसे रहे।  सड़क से कुछ मीटर नीचे काली नदी भी अपने उफान पर है। अभी इसी मार्ग से 11वेंं कैलास मानसरोवर यात्रा दल को भी धारचूला जाना है, दल अभी जौलजीवी पहुंचा है।

डीडीहाट के ओगला, गर्खा, सिंगाली, अस्कोट, तल्लाबगड़ और धारचूला के जौलजीवी क्षेत्र में जोरदार बारिश से जनजीवन प्रभावित रहा। टनकपुर-तवाघाट हाईवे बाधित होने से शनिवार सुबह विभिन्न स्थानों पर वाहन फंसे रहे। 11 बजे के करीब आवाजाही सुचारू हो पाई। लखनपुर में काली नदी किनारे सड़क पर बनी सुरक्षा दीवारें ढह गई हैं। क्षेत्र के तमाम गांवों में पेयजल योजनाएं भी ध्वस्त हुई हैं। चौखुटिया के रिवाड़ी व बिजरानी क्षेत्र में बरसाती नाले रिवाड़ी के उफान से कई घरों में पानी जा घुसा।

वहीं, चारधाम यात्रा मार्गों पर भी मलबा आने का क्रम बना रहा। हालांकि, यात्रा सुचारू है। राज्य के पर्वतीय इलाकों में संपर्क मार्ग बंद हैं, जिस कारण कई क्षेत्रों में रोजमर्रा की वस्तुओं का संकट गहराने के आसार पैदा हो गए हैं। चमोली जिले में 27, देहरादून में 15, रुद्रप्रयाग में 12, टिहरी में 11, पिथौरागढ़ में 10, उत्तरकाशी में नौ, बागेश्वर में सात, चंपावत में पांच, पौड़ी में चार, नैनीताल में तीन और अल्मोड़ा जिले में दो संपर्क मार्ग बंद हैं।

मौसम विज्ञान केंद्र, देहरादून के निदेशक विक्रम सिंह के अनुसार रविवार को राज्यभर में आमतौर पर बादल रहेंगे। अनेक स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षा अथवा गरज के साथ बौछारें पड़ सकती हैं। उन्होंने बताया कि 24 जुलाई से बारिश में तेजी आएगी और यह सिलसिला 26 जुलाई तक बना रह सकता है।

Leave a Comment