Share
अवैध दुकानों पर देसी-विदेशी शराब की सप्लाई करने वाला शातिर तस्कर राकेश लाल गिरफ्तार

अवैध दुकानों पर देसी-विदेशी शराब की सप्लाई करने वाला शातिर तस्कर राकेश लाल गिरफ्तार

हल्द्वानी नैनीताल : शहर में खुली शराब की अवैध दुकानों पर देसी-विदेशी शराब की सप्लाई करने वाले शातिर तस्कर राकेश लाल को गिरफ्तार करने में आबकारी महकमे को सफलता मिली है। लगातार शिकायतों के बाद आबकारी विभाग ने लंबे समय से राकेश लाला को शराब के दबोचने के लिए जाल बिछा रखा था। जिस कार से तस्कर पकड़ा गया, उसमें देसी-विदेशी शराब की 30 पेटियां भी लदी मिली हैं।

रामपुर रोड स्थित धनपुरी, आनंदपुर निवासी राकेश कुमार कई सालों समय से शराब की तस्करी करता है। सूत्रों के मुताबिक राकेश कारोबारियों से सीधे थोक में शराब खरीदता है। अवैध रूप से बेचने वालों को राकेश दुकान तक शराब पहुंचाने की सहूलियत लेता है। दुकानदार भी किसी रिस्क के बचने के लिए राकेश से ही शराब खरीदते हैं। बताते हैं कि गौलापार से लेकर लामाचौड़ तक दर्जनों तस्करों को राकेश शराब की सप्लाई करता है, जिससे उसकी पहचान शराब वाला राकेश लाल के रूप में बन गई है।

वहीं, आबकारी निरीक्षक महेंद्र सिंह बिष्ट ने बताया कि राकेश लाल की काफी समय से शिकायत थी। उसे रंगों हाथों पकड़ने के लिए मुखबिर लगाए गए थे। शनिवार सुबह राकेश के शराब लेकर लामाचौड़ से कालाढूंगी की ओर कार से शराब लेकर जाने की सूचना मिली। जिस पर टीम ने भाखड़ा पुल के पास कार रुकवा ली। कार की तलाशी में 25 पेटी देसी और पांच पेटी अंग्रेजी शराब बरामद हुई है। आरोपित के विरुद्ध आबकारी अधिनियम में मुकदमा दर्ज कर शराब जब्त कर दी गई है।

पुलिस-आबकारी में गहरी पैठ है तस्कर की शराब के गोरखधंधे में कामयाबी के पीछे राकेश की पुलिस-आबकारी में गहरी पैठ होना है। सूत्रों की मानें तो कई अफसर राकेश को पकड़ने के लिए रणनीति बनाते हैं लेकिन कर्मचारियों से राकेश तक इसकी खबर पहुंच जाती है। इसके बाद वह पुलिस व आबकारी अफसर के नजर रखने तक शांत बैठ जाता है। जिस कारण वह गिरफ्त में नहीं आ पाता।

मंडी चौकी पुलिस ने पकड़ा शराब तस्कर मंडी चौकी पुलिस को भी एक शराब तस्कर पकड़ने में सफलता मिली है। चौकी प्रभारी राजेंद्र कुमार ने बताया कि तल्ली हल्द्वानी की फ्रेंडस कालोनी में रहने वाले गगनदीप यादव के शराब बेचने की सूचना मिली थी। पुलिस ने छापामारी कर गगनदीप को गिरफ्तार कर 65 पव्वे देसी शराब बरामद की है। आरोपित के विरुद्ध आबकारी अधिनियम में मुकदमा पंजीकृत किया गया है।

Leave a Comment