Share
वॉर फिल्म सूबेदार जोगिन्दर सिंह एक सच्चे सैनिक की शौर्य गाथा

वॉर फिल्म सूबेदार जोगिन्दर सिंह एक सच्चे सैनिक की शौर्य गाथा


ऽ हजारों चीनी सिपाहिओ के विरुद्ध  हिन्दुस्तानी सैनिकों की पलटन!
देहरादून। सागा म्यूजिक एवम् यूनिसिस इन्फोसोल्युश्न्स के साथ सैवन कलर्स मोशन पिक्चर्स रिलीज करने जा रहा है अपनी फिल्म सूबेदार जोगिन्दर सिंह की पहली लुक स यह देश की पहली ऐसी जीवनी हैं जो किसी परम वीर चक्र विजेता पर बनी है एवम् पंजाबी के अलावा तीन भाषाओंय हिंदी, तमिल और तेलगु में रिलीज होगी स यह फिल्म बहु-अदाकार फिल्म है, इस आज के जमाने के नए अदाकारों के साथ मुख्य भूमिका में नजर आएंगे गिप्पी ग्रेवाल, गुग्गु गिल, कुलविंदर बिल्ला, अदिति शर्मा, राजवीर जवंदा, रोशन प्रिंस, करमजीत अनमोल, सरदार सोही स इस फिल्म की रिलीज 2018 ग्रीष्म ऋतु के समय निर्धारित की गई हैं स इतिहास बड़े परदे पर पुनः जीवित हो उठेगा बहु अपेक्षित वॉर फिल्म सूबेदार जोगिन्दर सिंह के साथ एक सच्चे सैनिक की शौर्य गाथा।

पंजाब के जाने माने अभिनेता गिप्पी ग्रेवाल, अपनी आने वाली वॉर फिल्म सुबेदार  जोगिन्दर सिंह की शूटिंग के  दौरान  पहाड़ से फिसले! कई हुए शहीद, कईओं ने अपने जान की बाजी लगाई इस देश की अखंडता को अक्षुण रखने के लिए, उनमे से कईओं को हम पहचानते है एवं याद भी करते है परन्तु दूसरी ओर कईओं को गुमनामी में भुला चुके हैं। एक ऐसे ही सिपाही जिन्होंने तीन युद्धों में अपने अदम्य साहस का प्रदर्शन करके खुद को अमर कर दिया उनका नाम है सूबेदार जोगिन्दर सिंहस वह आजादी से पूर्व ब्रितानवी भारतीय सेना तथा आजादी के उपरांत भारतीय सेना का हिस्सा थे, वह लड़े भारत को स्वतंत्रता दिलवाने के लिए, वह लड़े मिली हुई स्वंत्रता को बरकरार रखने के लिए एवं वह शहीद होने से पूर्व 1962 में लड़े चीन से जिसने हमारे साथ विश्वासघात किया एवं हमारे इलाके की तरफ नजर उठाके देखा।

वह एक पल्टन के कमांडर थे, उन्हें नेफा के दुर्गम क्षेत्र में पोजिशन लेने के ऑर्डर्स मिले वो भी बिना किसी प्रबलन केस नेफा में अपनी पोजिशन लेने कुछ समय पश्चात ही उन्हें तीन लहरों में चीन के हजारों सैनिकों के औचक आक्रमण का सामना करना पड़ा। यह सूबेदार जोगिन्दर सिंह की मानसिक दृढ़ता ही थी जिसकी वजह से गोला-बारूद खत्म होने अथवा जांघ पर गोली लगने के बावजूद भी उन्होंने ना सिर्फ अपने सैनिकों को लड़ाई के लिए प्रेरित किया बल्कि खुद भी अकेले ही दर्जनों चीनी सैनिकों को खंजरों से मौत के घाट उतारास इस अभूतपूर्व शौर्य के प्रदर्शन के लिए भारत सरकार ने उन्हें मरणोपरांत  राष्ट्र के सर्वोच्च युद्ध सम्मान – परम वीर चक्र से नवाजा सइस बहादुर सिपाही के चरित्र चित्रण पर बन रही फिल्म की शूटिंग खूबसूरत और खतरनाक  जगहों जैसे कारगिल और द्रास, राजस्थान एवं असम में हुईस फिल्म का मुख्य भाग 14000 फीट की ऊंचाई पर शूट हुआ जहाँ पहुँचने में ही अदाकारों एवं कर्मी दल को कई घंटो तक गाड़ी एवम् पैदल यात्रा करनी पड़ती थीस फिल्म के मुख्य कलाकार हैं गिप्पी ग्रेवाल जो सूबेदार जोगिन्दर सिंह की भूमिका निभाएंगे। उन्होंने इस फिल्म एवं खुद को सूबेदार के जैसे दर्शाने के लिए शारीरिक तौर परिवर्तित किया हैं। इतना ही नहीं उन्होंने चोटिल होने के बावजूद फिल्म के ज्यादातर स्टंट्स खुद ही किए हैं। इतनी प्रतिबद्धता एवं आदर, अदाकार के चरित्र को दर्शाता हैं।

Leave a Comment