उत्तराखंंड में कोरोना के चार नए मामले सामने आए, 323 पहुंचा आंकड़ा

प्रवासियों की आमद के साथ ही उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण का ग्राफ लगातार ऊपर चढ़ रहा है। चुनौती दिनों दिन बढ़ रही है। सोमवार को अबतक प्रदेश में कोरोना संक्रमण के चार नए मामले सामने आए हैं, जिनमें तीन हरिद्वार और एक टिहरी से है।

एक मरीज रुड़की के ग्रीन पार्क कॉलोनी का है, जो 21 मई को मुंबई से आया था और उसका सैंपल उसी दिन जांच को भेजा गया था। इसके अलावा लंढौरा के दो लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। दोनों ही लोग 21 मई को पंजाब से आए थे। एक साथ तीन कोरोना पॉजिटिव आने के बाद से प्रशासन में हड़कंप मचा हुआ है प्रशासन अब तीनों ही जगह को सील करने की तैयारियों में जुट गया है। वहीं, टिहरी टिहरी जिले में भिलंगना ब्लॉक के कोट भट गांव निवासी एक युवक में कोरोना की पुष्टि हुई है। 21 साल का युवक बेलेश्वर अस्पताल में भर्ती है। अब युवक को नई टिहरी कोविड सेंटर में लाया जा रहा है। युवक 21 मई को मुंबई से टिहरी आया था, जिसके बाद अब जिले में कुल 10 सक्रिय केस हो गए हैं।

इससे पहले रविवार को भी प्रदेश में 73 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई थी। इनमें अधिकांश हालिया दिनों में मुंबई, दिल्ली व अन्य राज्यों से लौटे प्रवासी शामिल हैं। संक्रमितों में चार अन्य राज्यों के लोग भी शामिल हैं। वहां इनके बारे में सूचित कर दिया गया है। उत्तराखंड में मिलाकर कुल संक्रमित मरीजों का आंकड़ा 323 पहुंच गया है। पांच दिन पहले ही संक्रमितों की संख्या सौ के पार हुई थी। इससे सहज अंदाजा लगाया जा सकता है कि उत्तराखंड में कोरोना संक्रमण किस कदर बढ़ रहा है।

कोरोना के लिहाज से लॉकडाउन-3 से पहले तक उत्तराखंड में स्थिति नियंत्रण में आती दिख रही थी। प्रवासियों की आमद बढऩे के साथ ही अब कोरोना संक्रमितों की तादाद भी कई गुना बढ़ गई है। हालांकि तब और अब में सैंपलिंग का अनुपात भी तीन से चार गुना बढ़ गया है। अब औसतन आठ सौ से एक हजार रिपोर्ट तक प्रतिदिन आ रही हैं। इसी का नतीजा है कि बाहरी राज्यों से लौटे संक्रमित मरीजों का जल्दी पता चल जा रहा है। इसीलिए संक्रमण दर तेजी से बढ़ रही है।

स्वास्थ्य विभाग से मिली जानकारी के अनुसार रविवार को 1016 सैंपल की जांच रिपोर्ट मिली है। जिनमें 943 निगेटिव व 73 मामले पॉजिटिव हैं। इनमें सर्वाधिक 32 मामले जिला नैनीताल से हैं। यह लोग महाराष्ट्र से चलकर ट्रेन से हरिद्वार और वहां से बस से हल्द्वानी पहुंचे थे। इसी ट्रेन के 55 यात्री शनिवार को कोरोना संक्रमित मिले थे। इन सभी को संस्थागत क्वारंटाइन रखा गया था। आज संक्रमित मिले मरीजों को सुशीला तिवारी अस्पताल में भर्ती कराया जा रहा है। देहरादून में 12 लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें एक दून की निरंजनपुर सब्जी मंडी के आढ़ती का मुनीम है। कुछ दिन पहले मुनीम के बेटे की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है

बीते शनिवार दून अस्पताल में शामली निवासी जिस गर्भवती की मौत हुई थी उसकी भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। वहीं एम्स ऋषिकेश के नेफ्रोलॉजी विभाग में कार्यरत 25 वर्षीय एक नॄसग ऑफिसर में कोरोना की पुष्टि हुई है। वह 21 मई को खटीमा से लौटा है और यहां होम क्वारंटाइन था। इसके अलावा शामली निवासी कैंसर का एक मरीज व रामपुर निवासी एक व्यक्ति कैंसर पीडि़त अपनी मामी को दिखाने कुछ दिन पहले एम्स आया था। रेड जोन से आने के कारण इनका सैंपल लिया गया जिसकी रिपोर्ट पॉजिटिव है। इसके अलावा मुजफ्फरनगर निवासी एक टैंपो ट्रेवलर चालक व दिल्ली निवासी टैक्सी चालक की भी रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। यह लोग चमोली के कुछ प्रवासियों को लेकर यहां पहुंचे थे। राज्य के बाहर के इन चार कोरोना संक्रमितों की सूचना संबंधित क्षेत्र के अधिकारियों को दे दी गई है।

अल्मोड़ा में पांच लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। इनमें धौलादेवी निवासी एक महिला, द्वारहाट के तल्ली रियूनी व माट गांव निवासी दो लोग और दो अन्य लोग ताड़ीखेल ब्लॉक के रिची बिल्लेख व लछीना गांव के निवासी हैं। ये सभी हालिया दिनों में गुरुग्राम व मुम्बई से लौटे हैं। टिहरी में तीन और लोगों में कोरोना की पुष्टि हुई है। यह तीनों ही मुम्बई से लौटे हैं। चंपावत में मुम्बई से लौटे एक युवक और पौड़ी में मुम्बई से आए एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। ऊधसिंहनगर में नौ नए मामले सामने आए हैं। इनमें मुम्बई से हरिद्वार आई श्रमिक ट्रेन से लौटे सात लोग शामिल हैं। इसके अलावा काशीपुर व जसपुर के दो लोग भी कोरोना पॉजिटिव मिले हैं। चमोली में आठ की रिपोर्ट पॉजिटिव हैं। इनमें चार पूर्व में कोरोना संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में आए लोग हैं, जबकि अन्य चार दिल्ली से लौटे एक ही परिवार से हैं। बागेश्वर में पॉजिटिव मिले दो लोग दिल्ली व अहमदाबाद से लौटे हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *