भारत में मतगणना के दिन ही पाकिस्‍तान ने बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन-2 का किया परीक्षण

नई दिल्‍ली । भारत में जिस वक्‍त मतों की गिनती का काम अपने चरम पर चल रहा था और सत्तारूढ़ पार्टी भाजपा को रुझानों में प्रचंड जीत मिल रही थी, उस वक्‍त पाकिस्‍तान ने मिसाइल परीक्षण कर सभी को चौंका दिया। दरअसल, पाकिस्‍तान ने बैलिस्टिक मिसाइल शाहीन-2 का परीक्षण किया जिसको उसने पूरी तरह से सफल करार दिया है। पाकिस्‍तान सेना की तरफ से आईएसपीआर के मेजर जनरल आसिफ गफूर ने ट्वीट कर कहा है कि यह मिसाइल परमाणु हमला करने में पूरी तरह से सक्षम है। इस मिसाइल की रेंज 1500 किमी है। उन्‍होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि इस क्षेत्र सेना की मजबूती और क्षेत्र में स्थिरता के लिए यह जरूरी है। यह मिसाइल टेस्‍ट अरब सागर में किया गया।

हालांकि, इस मिसाइल परीक्षण ने कई तरह के सवालों को जन्‍म दे दिया है। सवाल सबसे बड़ा यही है कि पाकिस्‍तान ने इसके लिए आज का ही दिन क्‍यों तय किया। यह बात एक माह से अधिक समय से जगजाहिर थी कि भारत में मतों की गिनती 23 मई को होगी। ऐसे समय में यह मिसाइल परीक्षण अपने आप में सवालों के घेरे में आ गया है। आपको यहां पर ये भी बता दें कि इस तरह के परीक्षण यूं तो अचानक से नहीं किए जाते हैं। इनको लेकर पड़ोसी देशों को आगाह करना होता है। साथ ही, समुद्र में इसको लेकर हाई अलर्ट घोषित किया जाता है। इसके अलावा जिस हवाई क्षेत्र में यह परीक्षण किया जाता है वहां पर किसी भी तरह के विमानों की आवाजाही प्रतिबंधित होती है। लिहाजा यहां पर ये बताना या कहना गलत नहीं होगा कि भारत में चुनावों की घोषणा के बाद ही इसकी कहीं न कहीं तैयारी की गई होगी।

आपको यहां पर ये भी बता दें कि भारत के लोकसभा चुनाव में पीएम मोदी को मिली प्रचंड जीत पर पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने उन्‍हें बधाई दी है। उन्‍होंने अपने ट्वीट में लिखा है कि मोदी इस जीत के साथ भारत-पाकिस्‍तान समेत पूरे क्षेत्र के विकास और समृद्धि के लिए काम करें। यहां पर एक बात और ध्‍यान देने वाली भी है। वो ये कि भारत में लोकसभा चुनाव राष्‍ट्रवाद के मुद्दे पर लड़ा गया। इसमें बालाकोट में हुई एयर स्‍ट्राइक ने अहम भूमिका निभाई। पीएम मोदी ने खुद चुनावी रैलियों में कहा कि हमनें दुश्‍मन को घर में घुसकर मारा है। वहीं बालाकोट के बाद दोनों देशों के बीच तनाव भी अपने चरम पर पहुंच गया था। इसके बाद हुए चुनाव के दौरान पाकिस्‍तान की तरफ से केंद्र सरकार, भाजपा और मोदी को लेकर कई तरह के बयान दिए गए। इतना ही नहीं पाकिस्‍तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने खुद टीवी पर आकर कहा कि उनकी सेना हर वक्‍त भारत के हमले का माकूल जवाब देने के लिए तैयार है। ऐसे में आज का मिसाइल परीक्षण इस बात का सीधा संकेत देता दिखाई दे रहा है कि इसके जरिए पाकिस्‍तान ने कहीं न कहीं भारत को धमकाने की कोशिश की है।

पाकिस्‍तान द्वारा मिसाइल परीक्षण की टाइमिंग इसी तरफ इशारा भी कर रही है। दरअसल, भाजपा को मिली प्रचंड जीत और पीएम मोदी की आतंकियों और आतंकी हमलों पर जवाब देने की नीति ने पाकिस्‍तान को खौफ में लाने का काम किया है। यही वजह है कि पाकिस्‍तान ने शाहीन का परीक्षण कर अपनी ताकत की तरफ इशारा किया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *