1 जून से 200 ट्रेनों से रेल सेवा शुरू, इसके लिए टिकटों की बुकिंग 21 मई से सुबह 10 बजे से शुरू होगी

 रेलवे ने पहली जून से चलने वाली 100 जोड़ी यात्री ट्रेनों की सूची जारी कर दी है। इनके लिए टिकट की बुकिंग गुरुवार सुबह 10 से शुरू होगी। टिकट की बुकिंग केवल आइआरसीटीसी की वेबसाइट या एप से ही होगी। कोई भी स्टेशन काउंटर नहीं खुलेगा। रेलवे ने यह भी स्पष्ट किया है कि इनमें एसी, नॉन एसी और जनरल सभी तरह के कोच होंगे। मंगलवार को केवल नॉन एसी ट्रेनों के चलने की बात कही गई थी। रेलवे की ओर से जारी सूची में दुरंतो, संपर्क क्रांति, जन शताब्दी और पूर्वा एक्सप्रेस जैसी ट्रेनों के नाम हैं।

रेलवे ने स्पष्ट किया है कि बिना रिजर्वेशन के यात्रा की अनुमति नहीं होगी। जनरल कोच के लिए भी टिकट बुक किया जाएगा। इसके लिए यात्री को सेकेंड सीटिंग का किराया देना होगा और उसे एक आरक्षित सीट मिलेगी। अन्य सभी श्रेणी में किराया सामान्य ट्रेनों जैसा ही रहेगा। इन ट्रेनों में अधिकतम 30 दिन आगे तक का टिकट लेने की अनुमति होगी। वेटिंग और आरएसी का टिकट भी नियमानुसार मिलेगा, लेकिन वेटिंग वालों को यात्रा की अनुमति नहीं दी जाएगी। तत्काल एपं प्रीमियम तत्काल बुकिंग की अनुमति नहीं होगी।

कर्नाटक में दो अंतर्राज्यीय ट्रेनों के संचालन की अनुमति भी रेलवे ने दी है। ये दोनों स्पेशल ट्रेनें बेंगलुरु-हुबली-बेलगावी और मैसुरु-बेंगलुरु के बीच चलेंगी। इनके लिए भी आरआरसीटीसी की वेबसाइट या एप से ही टिकट की बुकिंग होगी। इनका संचालन शुक्रवार से शुरू हो जाएगा।

देखें- 1 जून से चलने वाली ट्रेनों की सूची

बता दें कि 19 मई को भारतीय रेलवे ने एक जून से 200 अतिरिक्त स्पेशल ट्रेन नियमित तौर पर चलाने का फैसला किया था। ये ट्रेनें निर्धारित टाइम टेबल के आधार पर चलाई जाएंगी। इन स्पेशल ट्रेनों के लिए टिकटों की बुकिंग कल से शुरू हो जाएगी। रेलवे इन ट्रेनों के संचालन की तैयारी को अंतिम रूप दे दिया है। इसके साथ ही ट्रेनों की लिस्ट भी जारी हो गई है।

रेल मंत्री ने ट्वीट कर दी जानकारी

रेल मंत्री पीयूष गोयल ने ट्वीट कर कहा, ‘रेलवे द्वारा एक जून से 200 नॉन एसी ट्रेनों की शुरुआत की जाएगी, जो समय सारणी के अनुसार चलेंगी। यात्री इन ट्रेनों के लिये केवल ऑनलाइन टिकट बुक कर सकेंगे। इन सेवाओं के शुरु होने से नागरिकों को बड़ी राहत मिलेगी, तथा उन्हें अपने गंतव्य स्थानों तक पहुंचने में सुविधा होगी।’

सभी कोच होंगे नॉन एसी

पहली जून से चलाई जाने वाली ट्रेन के सभी कोच नॉन एसी होंगे। इन ट्रेनों के लिए टिकटों की बिक्री भी ऑनलाइन ही होगी। रेलवे के बुकिंग काउंटर से इन ट्रेनों के लिए भी टिकटों की बिक्री नहीं की जाएगी। रेलवे ने इस बाबत हिदायत भी जारी की है।

श्रमिक स्पेशल और राजधानी स्पेशल का संचालन जारी

इससे पहले, एक मई को मजदूर दिवस के अवसर पर श्रमिक स्पेशल ट्रेनों का संचालन शुरू किया गया था। इसके बाद 12 मई को राजधानी स्पेशल ट्रेनों के संचालन का फैसला किया गया। इसके तहत कुल 15 जोड़ी ट्रेनों का संचालन शुरू किया गया। चलाई जा रही सभी राजधानी स्पेशल ट्रेन में पूरी क्षमता के साथ चल रही है। इन ट्रेनों के टिकट 2 दिन के भीतर ही बिक गए।

रेलवे अब तक 22 लाख प्रवासी को पहुंचाया घर

उधर, दूसरी ओर प्रवासी मजदूरों के घर लौटने को लेकर सरकार पर लगातार दबाव बढ़ रहा था। वैसे तो श्रमिक स्पेशल ट्रेनों की संख्या 1600 हो चुकी है जिससे अब तक लगभग 22 लाख प्रवासी मजदूरों को उनके घर पहुंचाया जा चुका है। इसके बावजूद प्रवासी मजदूरों की संख्या घटने का नाम नहीं ले रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *