रिया के खुलासे से बॉलीवुड में मची हलचल, NCB के निशाने पर 15 हस्तियां

ड्रग मामले में गिरफ्तार रिया चक्रवर्ती (Rhea Chakraborty) एवं उसके भाई शौविक (Showik Chakraborty) को विशेष अदालत से भी जमानत नहीं मिली। रिया के वकील सतीश मानेशिंदे अब बांबे हाई कोर्ट में चुनौती देंगे। ये सभी फिलहाल न्यायिक हिरासत में हैं। नार्कोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) ने रिया की जमानत का कड़ा विरोध किया था। उधर, रिया चक्रवर्ती ने एनसीबी के सामने लगभग 15 बॉलीवुड हस्तियों (Bollywood Celebrities) का नाम लिया है, जो ड्रग्स का इस्तेमाल करते हैं। ये सभी लोग अब एनसीबी के निशाने पर हैं। इन लोगों में कुछ ड्रग के खरीदार और अन्य उपभोक्ता हैं। यह भी पता चला है कि कुछ लोगों का ऐसा वर्ग है, जो ड्रग्स खरीदकर बॉलीवुड हस्तियों को उसकी आपूर्ति करता है।

अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्ध मौत से जुड़े ड्रग मामले में मंगलवार रात रिया की गिरफ्तारी हुई थी। उसे गिरफ्तारी के कुछ घंटे बाद ही वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये मजिस्ट्रेट कोर्ट के सामने पेश किया गया था। वहां उसकी जमानत अर्जी खारिज हो गई थी। इसके बाद गुरुवार को विशेष एनडीपीएस कोर्ट के जज जीबी गुरव के सामने भी एनसीबी ने रिया की जमानत का विरोध करते हुए कहा था कि उसने सुशांत सिंह राजपूत के ड्रग सेवन की बात को अच्छी तरह जानते हुए भी उसके लिए ड्रग खरीदने के अपराध में खुद को शामिल किया।

एनसीबी के अनुसार रिया अपने भाई शौविक एवं सुशांत के पूर्व हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा तथा उसके पूर्व स्टाफ दीपेश सावंत के साथ ड्रग सिंडीकेट का हिस्सा थी। एनसीबी ने रिया को गिरफ्तार करने के साथ ही उस पर एनडीपीएस एक्ट की धारा 27 (ए) लगाई है। नशीले पदार्थ खरीदने एवं उसके लिए पैसा चुकाने पर यह धारा लगाई जाती है। इस धारा में आरोप सिद्ध होने पर अधिकतम 20 साल तक की सजा का प्रविधान है।

रिया की मुसीबत उसके भाई शौविक द्वारा एनसीबी को दिए बयान से भी बढ़ गई है। शौविक ने माना है कि सुशांत के लिए ड्रग खरीदने का पैसा कई बार रिया ने चुकाया है। रिया ने भी अपने बयान में ड्रग के लिए पैसा चुकाने की बात मानी है। एनसीबी को दिए बयान में उसने माना है कि वह पैसा देती थी और सैमुअल मिरांडा तथा दीपेश सावंत सुशांत के लिए ड्रग लाते थे।

दूसरी ओर रिया के वकील सतीश मानेशिंदे के अनुसार वास्तविकता यह है कि ड्रग की खुदरा खरीद-फरोख्त करनेवाले किसी व्यक्ति से रिया का संबंध स्थापित नहीं हो सका है। इस मामले में रिया का संबंध सिर्फ उसके भाई शौविक, हाउस मैनेजर सैमुअल मिरांडा एवं सुशांत के स्टाफर रहे दीपेश से ही सिद्ध किए जा सकते हैं। मानेशिंदे ने रिया द्वारा एनसीबी के सामने दिए गए बयान पर भी सवाल उठाया था। उनके अनुसार रिया से ये बयान दबाव में लिए गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *