भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा- कांग्रेस ने पूर्व में अल्पसंख्यकों को एकजुट कर और हिंदुओं को विभाजित कर के सरकारें बनाईं

भाजपा के वरिष्ठ नेता सुब्रमण्यम स्वामी (Subramanian Swamy) ने कहा कि भाजपा भारत को हिंदू राष्ट्र में नहीं बदल रही। संविधान ऐसा करने की अनुमति भी नहीं देता है। हालांकि उन्होंने दावा कि पार्टी की हिंदुत्ववादी विचारधारा बरकरार रहेगी। उन्‍होंने कहा कि कांग्रेस ने पूर्व में अल्पसंख्यकों को एकजुट कर और हिंदुओं को विभाजित कर के सरकारें बनाईं। अब राजनीतिक रूप से हिंदुओं को अपने मतभेदों को दूर कर एक समुदाय के रूप में एकजुट हो जाना चाहिए।

स्वामी (Subramanian Swamy) ने गुरुवार को कहा कि भाजपा का वोट शेयर उसकी हिंदुत्व विचारधारा के कारण बढ़ा है। वह गुरुवार को विदेशी संवाददाता क्लब द्वारा आयोजित एक वेबिनार में बोल रहे थे। इसमें एआइएमआइएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी को भी अपने विचार रखने के लिए आमंत्रित किया गया था। भाजपा सांसद (Subramanian Swamy) ने कहा कि जब तक भाजपा हिंदुत्व की विचारधारा नहीं छोड़ेगी तब तक वह सत्ता में रहेगी।

स्वामी (Subramanian Swamy) ने कहा कि कई वर्षों से कांग्रेस हिंदुओं को बांटने और अल्पसंख्यकों को एकजुट रखने में सफल रही और ऐसा करके वह बार-बार सरकारें बनाने में सफल रही। कांग्रेस ने कथित तौर पर आर्य द्रविड़ जाति जैसे निरर्थक विचारों के आधार पर हिंदुओं को विभाजित किया। भाजपा नेता ने कहा कि हिंदुत्व की विचारधारा के कारण ही भाजपा के वोट प्रतिशत में इजाफा हुआ है। यदि हिंदुत्व की विचारधारा बनी रहेगी तो हम आगे भी चुनाव जीतेंगे।

सुब्रमण्यम स्वामी ने अर्थव्‍यवस्‍था की हालत पर भी अपनी बात रखी। उन्‍होंने कहा कि हमें आर्थिक प्रदर्शन से तब तक फर्क नहीं पड़ेगा जब तक यह बहुत ही ज्यादा खराब न हो जाए। वहीं स्वामी का विरोध करते हुए एआइएमआइएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी (AIMIM chief Asaduddin Owaisi) ने कहा कि भारत की सुंदरता उसकी विविधता में है। स्वामी अपनी हिंदुत्व विचारधारा के लिए केवल उनकी बात कर रहे हैं जो इसमें यकीन रखते हैं।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *