त्रिवेंद्र सिंह रावत ने अभिनेता शाहिद कपूर को प्रतानगर के वीर गंगू रमोला सहित प्रचलित कहानियां सुनाई।

नई टिहरी : मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने फिल्म के मुहूर्त कार्यक्रम के दौरान फिल्म अभिनेता शाहिद कपूर को मलेथा के वीर भड़ माधो सिंह भंडारी, प्रतानगर के वीर गंगू रमोला सहित परियों के देश कहे जाने वाले खैट पर्वत के बारे में बताया। शाहिद ने भी उनकी बातों को काफी ध्यान से सुना और कई जानकारियां भी हासिल कीं।

हिंदी फिल्म ‘बत्ती गुल, मीटर चालू’  की शूटिंग के मुहूर्त के लिए पहुंचे मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने कार्यक्रेम के दौरान शाहिद कपूर को टिहरी की खासियतों के बारे में बताया। जो फिल्म बनाने के लिए नया सब्जेक्ट हो सकते हैं। कार्यक्रम के दौरान ही मुख्यमंत्री ने सामने दिख रहे प्रतापनगर ब्लॉक के खैट पर्वत के बारे शाहिद को बताया कि इस पर्वत को परियों का देश कहा जाता है। खैट के बारे में प्रचलित है कि यहां पर आज भी परियां आती हैं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रतापनगर की सेम मुखेम की धरती वीर गंगू रमोला की वीरता की कई कहानियां हैं। इसी तरह कीर्तिनगर में मलेथा के वीर भड़ माधो सिंह भंडारी की कहानी भी मुख्यमंत्री ने शाहिद को सुनाई। उन्होंने कहा कि मलेथा के वीर माधो सिंह भंडारी ने अपने क्षेत्र में पानी लाने के लिए अपने पुत्र की बलि दे दी थी।

इसके बाद देवी मां ने उन्हें सुरंग बनाने के लिए रास्ता दिया और वह अपने गांव में पानी लेकर आए। जिससे पूरे क्षेत्र में खुशहाली आई। मुख्यमंत्री ने कहा कि यहां की धरती पर अनेक ऐसे वीर हुए हैं, जिनके बारे में लिखा गया है।

फिल्म में होगा नई टिहरी ही नाम 

फिल्म के निर्देशक श्रीनारायण सिंह ने बताया कि नई टिहरी उन्हें बेहद पसंद आया है और यहां पर शानदार लोकेशन हैं। उन्होंने कहा कि फिल्म में भी शहर का नाम नई टिहरी ही रखा गया है। फिल्म में नाम नहीं बदला जाएगा। फिल्म में कुछ स्थानीय कलाकारों को भी लिया गया है। शनिवार को बौराड़ी में फिल्म के शॉट फिल्माए जाएंगे। उन्होंने कहा कि शासन-प्रशासन का हमें पूरा सहयोग मिल रहा है।

शाहिद के प्रशंसक हुए निराश 

फिल्म की शूटिंग के पहले दिन शाहिद कपूर ने अपने प्रशंसकों को एक झलक के लिए काफी इंतजार कराया। सुबह से ही पडियार भवन में शूटिंग के लिए गए शाहिद दो बजे मकान से बाहर आए और सीधा वेनिटी वैन में चले गए। इस दौरान वहां सड़क के ऊपर खड़े प्रशंसकों को निराश होना पड़ा।

उसके बाद मुख्यमंत्री के आने के दौरान ही शाहिद कुछ देर पडियार भवन के लॉन में रहे। शाहिद कपूर को देखने के लिए सुबह से पडियार भवन के बाहर उनके प्रशंसकों का आना शुरू हो गया था, लेकिन सीएम के कार्यक्रम के चलते पुलिस ने वहां पर किसी को भी रुकने नहीं दिया। ऐसे में लोग वहीं सामने सड़क के ऊपर खड़े होकर शाहिद का इंतजार करते रहे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *