कंगना रनोट की ओर से महेश भट्ट पर लगाए गए आरोपों को राइटर शगुफ्ता रफीक ने बताया गलत

बॉलीवुड एक्टर सुशांत सिंह राजपूत के सुसाइड केस के बाद कंगना रनोट कई फिल्ममेकर्स पर फेवरेटिज्म और नेपोटिज़्म के आरोप लगा चुकी हैं। कंगना ने इस दौरान फिल्म मेकर महेश भट्ट पर भी आरोप लगाया था कि उन्होंने एक्ट्रेस की तरफ जूता फेंका था और हाथ उठाया था। कंगना के इन सनसनीखेज आरोपों के बाद हर कोई हैरान है, लेकिन अब राइटर शगुफ्ता रफीक ने इन आरोपों को गलत बताया है। शगुफ्ता रफीक, वो ही राइटर हैं जिन्होंने कंगना की दो फिल्में ‘वो लम्हे’ और ‘राज़ द मिस्ट्री कॉन्टिन्यूज’ लिखी हैं और लंबे वक्त से महेश भट्ट से जुड़ी हैं।

राइटर ने हाल ही में एक इंटरव्यू को इन आरोपों को गलत बताया है और उस वक्त की सच्चाई बताई है। राइटर ने ई टाइम्स को दिए इंटरव्यू में कहा कि अगर कंगना के साथ साल 2006 में ‘वो लम्हे’ के वक्त ऐसा कुछ हुआ तो फिर उन्होंने साल 2009 में विशेष फिल्म्स के साथ काम क्यों किया था। साथ ही उन्होंने कंगना से यह सवाल पूछा जाना चाहिए कि आखिर एक बार ऐसा होने पर उन्होंने वापस क्यों काम किया।

साथ ही जूता फेंकने वाली घटना को लेकर राइटर ने कंगना के आरोपों को पूरी तरह नकार दिया। हालांकि, राइटर ने यह भी माना कि उस दौरान महेश भट्ट, कंगना पर चिल्लाए जरूर थे, लेकिन जूता फेंकने वाली बात गलत है। राइटर ने इंटरव्यू में बताया, ‘फिल्म वो लम्हे के ट्रायल के दौरान कंगना रनोट शो में काफी देर से पहुंची थीं तो महेश भट्ट एक्ट्रेस पर चिल्लाए थे।’

राइटर ने आगे कहा, ‘उस समय शूटिंग का लेकर कोई मुद्दा था और कंगना ने एक फिल्म ठुकरा दी थी, जो उसका अधिकार है। हालांकि, वो पुरानी बातों को सामने ला रही हैं और कुछ ऐसा जोड़ रही हैं, जो कभी हुआ ही नहीं है। उस दौरान ट्रायल शो के लिए पूरी यूनिट मौजूद थी, जिसमें मोहित सूरी, मुकेश भट्ट और बाकी स्टार कलाकार शामिल थे।’

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *